Arrest warrant against Deepak Chaurasia
Arrest warrant against Deepak Chaurasia

Arrest warrant against Deepak Chaurasia : अदालत ने दीपक चौरसिया के विरुद्ध यह आदेश 28 अक्टूबर, 2022 को उस समय जारी किया जब दीपक चौरसिया ने गंभीर स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए पेशी में छूट की माँग करते हुए एक याचिका दायर की थी।

Arrest warrant against Deepak Chaurasia : हरियाणा में गुरुग्राम की एक विशेष कोर्ट ने पत्रकार दीपक चौरसिया (Deepak Chaurasia) के विरुद्ध गिरफ्तारी वॉरंट जारी किया है। यह वारंट दीपक चौरसिया के विरुद्ध 2013 के एक मामले में जारी किया गया है। टीवी पत्रकार पर आरोप पर है कि उन्होंने 10 वर्षीय लड़की और उसके परिवार के ‘मॉर्फेड, एडिट और अश्लील’ वीडियो को प्रसारित किया और उसे स्वघोषित बाबा आसाराम के खिलाफ यौन उत्पीड़न के मामले से सम्बद्ध करके दिखाया था।

ALSO READ THIS :  Gujarat Assembly Election 2022 BJP Candidates List: गुजरात चुनाव के लिए BJP ने जारी की प्र्ताशियों की पहली सूची

कोर्ट ने यह आदेश 28 अक्टूबर 2022 को तब जारी किया जब चौरसिया ने गंभीर स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए पेशी में छूट की माँग करते हुए याचिका दायर की थी। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश चौहान ने कहा कि 23 सितंबर को भी इसी तरह की याचिका दायर की गई थी। उनके विरोधी पक्ष ने यह दलील दी कि ऐसा लग रहा है कि चौरसिया जानबूझकर अदालत आने से बच रहे हैं। अदालत में उनकी मेडिकल रिपोर्ट दीपक चौरसिया की दलीलों को साबित नहीं कर पाई।

इसके बाद कोर्ट ने उनकी पेशी से बचने की याचिका को रिजेक्ट करते हुए उनका बेल बॉन्ड भी ख़ारिज कर दिया।

ALSO READ THIS :  India vs England ICC T20 World Cup 2022: फाइनल में पहुंचेगी टीम इंडिया, बस रोहित शर्मा करलें सिर्फ ये काम; पूर्व कप्तान ने दी सलाह

रिपोर्ट्स के अनुसार न्यायाधीश शशि चौहान ने 21 नवंबर, 2022 को गिरफ्तारी का वॉरंट जारी किया। इस मामले में अब तक मीडिया में दीपक चौरसिया की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। ज्ञात हो कि दीपक चौरसिया उन आठ लोगों में शामिल हैं, जिन पर दस साल की बच्ची और उसके परिवार के एडिट, अश्लील वीडियो प्रसारित करने और वीडियो को यौन उत्पीड़न से जोड़ कर दिखाने के ​गंभीर मामले में चार्जशीट दायर की गई थी।

बता दें कि यह मामला 2013 में बच्चे के एक रिश्तेदार की शिकायत पर दर्ज एफआईआर से संबंधित है। न्यूज चैनल न्यूज 24, इंडिया न्यूज और न्यूज नेशन पर वीडियो प्रसारित करने का यह गम्भीर आरोप लगाया गया था। खबरों के अनुसार, न्यूज 24 के पूर्व मैनेजिंग एडिटर अजीत अंजुम और एंकर चित्रा त्रिपाठी तथा दीपक चौरसिया पर आरोप है कि इन समाचार चैनलों पर प्रसारित वीडियो में इन्होने आंशिक रूप से बच्ची, शिकायतकर्ता की पत्नी एवं कुछ अन्य महिलाओं के चेहरे दिखाई थे।

ALSO READ THIS :  Teacher undergoes gender change surgery : प्यार में मीरा से आरव बनी टीचर, अपनी ही छात्रा से की शादी, लिंग बदलवाने को करवाई सर्जरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here