Minor Girl Rape Case

Minor Girl Rape Case : बिहार के किशनगंज से रिश्तों और मानवता को शर्मसार करनेवाली एक घटना सामने आई है. यहां सगे चाचा ने अपनी मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म किया है. इस घटना से पूरा समाज हतप्रभ है और अब प्रश्न यह उठा रहा है कि आखिर अपनों पर भरोसा न करें तो किस पर करें?

Minor Girl Rape Case : किशनगंज, बहादुगंज थाना क्षेत्र के कोई मरी गाँव में मानवता को शर्मसार करते हुए सगे चाचा ने अपनी 10 वर्षीय भतीजी से बलात्कार किया. पुलिस ने बलात्कारी चाचा को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन घटना से लोग आक्रोशित हैं. सगे चाचा द्वारा अपनी भतीजी के साथ किया गया दुष्कर्म का यह मामला जानकर लोग सकते में हैं. हालांकि, पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को अरेस्ट कर लिया है और आगे की कानूनी कार्रवाई की जा रही है.

ALSO READ THIS :  National Population Register (NPR) : राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर को अपडेट किये जाने की आवश्यकता : केंद्रीय गृह मंत्रालय वार्षिक रिपोर्ट

एसडीपीओ अनवर जावेद ने मीडिया को बताया, शुक्रवार की प्रातः सूचना प्राप्त हुई कि बहादुरगंज थाना अंतर्गत ग्राम कोईमारी में नाबालिग बच्ची के साथ दुष्कर्म की घटना हुई है, जिसका इलाज किशनगंज के प्राईवेट नर्सिंग होम में किया जा रहा है. उक्त सूचना पर महिला थाना किशनगंज द्वारा अस्पताल पहुँच पीड़िता से पूछताछ की तो उसने अपने साथ की गई हैवानियत के बारे में पूरी बात बताई.

एसडीपीओ के मुताबिक, बच्ची ने बताया कि वह कक्षा चार में पढ़ती हैं. रात में उसके चाचा ने उसके साथ जबरदस्ती दुष्कर्म किया. जब रात्रि में ही उसकी हालत ज्यादा खराब होने लगी तो परिजनों द्वारा उसे किशनगंज के प्राईवेट नर्सिंग होम में इलाज के लिए लाया गया. फिर बाद में बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल किशनगंज में बच्ची को भर्ती कराया गया.

ALSO READ THIS :  Himachal Pradesh Assembly Election 2022: हिमाचल प्रदेश चुनाव से पहले कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, 26 नेता BJP में हुए शामिल; देखें पूरी लिस्ट

मामले में पुलिस ने फ़ास्ट कार्रवाई करते हुए आरोपी चाचा तौहिद आलम को अरेस्ट कर लिया और अग्रतर कानूनी कार्रवाई की जा रही है. पीड़िता के बयान पर किशनगंज महिला थाना कांड सं 45/22 दर्ज किया गया है. उसपर धारा-376/376(एबी)भा.द.वि. एवं 4/6 पॉक्सो अधिनियम के अन्तर्गत कांड दर्ज किया है. पुलिस ने बताया कि उक्त कांड का त्वरित विचारण कराते हुए आरोपी को कठोर सजा दिलाई जाएगी.

मासूम का इलाज अभी भी जारी है, लेकिन चाचा की यह करतूत से इलाके में चर्चा का विषय बन गयी है. लोग सवाल पूछ रहे हैं अपने सगे संबंधियों पर भी भरोस न करें तो किस पर करें. जरूरत इस बात की है कि ऐसे लोगों को कड़ी से कड़ी सजा मिले ताकि दोबारा कोई ऐसा घटना न हो.

ALSO READ THIS :  9 people left Islam and adopted Hinduism : 9 लोगों ने इस्लाम त्याग कर अपनाया हिन्दू धर्म, 150 साल पहले पूर्वज दबाव में बन गए थे मुस्लिम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here